ब्लॉग होस्टिंग और बेस्ट वेब होस्टिंग प्लान 2019

ब्लॉग होस्टिंग

ब्लॉग क्या है और अपना ब्लॉग कैसे बनाये, ब्लॉग का टॉपिक सोच लिया, ब्लॉग का नाम भी रजिस्टर कर लिया, तो इसके बाद जो अगला सबसे महत्वपूर्ण कार्य है. वह है अपना ब्लॉग कहां होस्ट करें. ब्लॉग होस्टिंग करना और एक बढ़िया होस्टिंग कंपनी को चुनना ज्यादातर ब्लॉगर्स को कंफ्यूज करता है.

बहुत सारे ब्लॉगर्स के लिए यह काम बहुत ही आसान होता है, लेकिन कुछ के लिए बेस्ट ब्लॉग होस्टिंग कंपनी को चुनना एक मुश्किल काम है.
अगर आप नए ब्लॉगर हैं और कंफ्यूज हैं कि आप अपने ब्लॉग को कहां होस्ट करें, तो आज इस आर्टिकल में मैं आपका कन्फ्यूजन पूरी तरह से दूर करने वाला हूं. इस आर्टिकल को पढ़ने के बाद आप अपने ब्लॉग को सही जगह और आपके ब्लॉग के लिए कौन सा बेस्ट सर्वर (Server) होगा वह सभी बातें समझ पाएंगे.

तो सबसे पहले हम यह जान लेते हैं कि ब्लॉग होस्टिंग या वेब होस्टिंग क्या होता है और यह कैसे काम करता है.

ब्लॉग होस्टिंग

जिस प्रकार हर इंसान को रहने के लिए एक घर की जरूरत होती है. और जिस भी घर में वह इंसान रहता है उस घर का कुछ ना कुछ एड्रेस होता है. उसी प्रकार हमारे ब्लॉग की फाइलों को रखने के लिए हमको वेब होस्टिंग या ब्लॉग होस्टिंग की जरूरत होती है, और जहां पर भी हमारा ब्लॉग होस्ट होता है उसका भी एक एड्रेस होता है उस एड्रेस को इंटरनेट की भाषा में IP (Internet Protocol) कहते हैं.

ठीक उसी प्रकार जैसे एक घर में कई सारे लोग रहते हैं और उन सभी लोगों का एक ही पता होता है लेकिन उन सब के नाम अलग-अलग होते हैं. जिससे कि यह पता चलता है कि यह लेटर (Letter) उस आदमी का है.

ठीक उसी प्रकार एक IP एड्रेस में बहुत सारे ब्लॉग हो सकते हैं लेकिन हर ब्लॉग का एक अलग नाम होता है. जिससे यह पता चलता है कि इंटरनेट में सर्च कर रहा आदमी इस IP Address के उस ब्लॉग को ढूंढ रहा है. और वह होस्टिंग सर्वर उस ब्लॉग को ढूंढ कर उस आदमी को वह पर्टिकुलर ब्लॉग ही दिखाता है.

नीचे दिए गए इंफोग्राफिक (infographic) को देख कर आपको यह और भी आसानी से समझ में आ जाएगा.
वेब होस्टिंग की कार्य प्रणाली

ब्लॉग होस्टिंग के प्रकार

वेब होस्टिंग के जगत में बहुत सारे अलग-अलग प्रकार की होस्टिंग सेवाएं मौजूद है. आपको कौन सी होस्टिंग लेनी है यह आपके ब्लॉग व वेबसाइट पर निर्भर करता है कि उसकी क्या आवश्यकताएं हैं. क्योंकि हर ब्लॉग व वेबसाइट की आवश्यकताएं अलग अलग होती हैं जिस को ध्यान में रखते हुए ही सही होस्टिंग का चुनाव करना जरूरी है.

होस्टिंग के प्रकार और उसमें मिलने वाली सुविधाओं के आधार पर ही होस्टिंग में होने वाले खर्चे को तय किया जाता है.

तो चलिए मैं आपको ब्लॉग होस्टिंग के विभिन्न प्रकारों के बारे में बताता हूं.

Free होस्टिंग

फ्री ब्लॉग होस्टिंग, जहां पर आपको किसी भी प्रकार का पेमेंट करने की जरूरत नहीं होती है और आप अपने ब्लॉग या वेबसाइट को फ्री में होस्ट कर सकते हैं. लेकिन सभी फ्री होस्टिंग की कुछ सीमाएं होती हैं.आप उस फ्री होस्टिंग को उसकी सीमाओं में रहकर ही इस्तेमाल कर सकते हैं.

वैसे तो बहुत सारी कंपनियां फ्री वेब होस्टिंग सेवाएं प्रदान करती है लेकिन जो सबसे बढ़िया फ्री होस्टिंग सर्विस है वह Google की Blogger.com है. Blogger की सीमाएं भी कम है और सुविधाएं भी ज्यादा है.

उदाहरण:

फ्री ब्लॉग होस्टिंग इस प्रकार है कि जैसे एक आश्रम में रहना. आश्रम के एक ही कमरे में कई सारे लोग रह सकते हैं और उनको उस आश्रम में रहने का कोई भी पेमेंट नहीं करना होता है. आप उस आश्रम में फ्री में रह तो सकते हैं लेकिन कम सुविधाओं के साथ.

Shared Server होस्टिंग

शेयर्ड होस्टिंग को लेने के लिए आपको कुछ Pay करने की जरूरत होती है और आपको उस पेमेंट के बदले कुछ सुविधाएं दी जाती हैं. अगर आप अपने ब्लॉग को अभी शुरू ही कर रहे हैं और आपका बजट भी कम है तो शेयर्ड होस्टिंग प्लान आपके लिए बढ़िया है.

शेयर्ड होस्टिंग Server में सीमित Storage Space. CPU और RAM होती है जिसको उस Server में होस्ट होने वाली सभी वेबसाइटों को आपस में बांटना होता है.

उदाहरण:

शेयर्ड होस्टिंग प्लान इस प्रकार है कि जैसे एक कमरे में कुछ सुविधाएं दी गई है. लेकिन उस कमरे में आपके साथ कुछ और भी लोग हैं और वह लोग भी उन सभी सुविधाओं को इस्तेमाल कर रहे हैं.

Reseller होस्टिंग

Reseller Hosting में सुविधाएं थोड़ा ज्यादा होती हैं. रिसेलर होस्टिंग Server में Storage Space. CPU और RAM भी ज्यादा होती है. और एक खास सुविधा होती है कि आप चाहे तो रीसेलर होस्टिंग के अलग अलग प्लान बनाकर बेच भी सकते हैं. हर खरीदने वाले को एक अलग पैनल मिलता है जहां पर वह अपने वेबसाइट को होस्ट करता है.

उदाहरण:

रीसेलर होस्टिंग प्लान, एक फ्लोर के स्पेस की तरह है जिसको आपने किराए पर लिया है और उस जगह पर आप अपने हिसाब से पार्टीशन कर के और लोगों को उनकी जरूरतों के हिसाब से उनसे पैसा लेकर उनको किराए पर दे रहे हैं.

Virtual Private Server (VPS) होस्टिंग

Virtual Private Server में virtualization तकनीकी का इस्तेमाल किया जाता है. जिसमें एक Physical server को Virtually अलग-अलग भागों में बांट दिया जाता है, जिसके परिणाम स्वरूप एक ही सर्वर में और वेबसाइट रहते हुए भी दूसरे की सुविधाओं को इस्तेमाल नहीं कर सकते हैं.

उदाहरण:

वर्चुअल प्राइवेट सर्वर एक बिल्डिंग की तरह है, जिस बिल्डिंग में अलग अलग फ्लोर बने हुए हैं. एक ही बिल्डिंग में रहने के बावजूद भी एक फ्लोर में रहने वाला व्यक्ति दूसरे फ्लोर में रहने वाले व्यक्ति की सुविधाओं को इस्तेमाल नहीं कर सकता है.

Dedicated Server होस्टिंग

Dedicated Server होस्टिंग में पूरा सरवर आप का ही होता है आप जैसे चाहें उस सरवर में कोई भी ऑपरेटिंग सिस्टम डाल सकते हैं और पूरा कंट्रोल आपके हाथ में होता है. आप जब चाहे डेडीकेटेड सर्वर को शुरू कर सकते हैं जब चाहे बंद कर सकते हैं. डेडीकेटेड सर्वर के प्लान को खरीदते समय जो सुविधाएं आपको दी जाती हैं आप चाहे तो उसके अलावा भी और सुविधाएं ले सकते हैं लेकिन उसके लिए आपको उन सुविधाओं के हिसाब से पेमेंट करनी होती है.

उदाहरण:

डेडीकेटेड सर्वर होस्टिंग एक किराए के मकान की तरह है जिसकी सभी सुविधाएं पूर्ण रूप से आपके लिए ही है कोई भी दूसरा व्यक्ति उस घर की सुविधाओं को इस्तेमाल नहीं कर सकता है. और यदि आप चाहे तो उस घर को अपने हिसाब से रंगाई पुताई कर सकते हैं और उस घर में कुछ अलग से सुविधाएं भी ले सकते हैं. मगर उन सभी सुविधाओं के लिए आपको अलग से पेमेंट करने की जरूरत होगी.

ब्लॉग होस्टिंग के लिए बढ़िया प्लान

क्या इस आर्टिकल को पढ़ने के बाद भी आपके मन में अभी भी यह सवाल उठ रहा है कि आप अपना ब्लॉग कहां होस्ट करें? तो इसके लिए मेरा एक ही जवाब है कि आपके ब्लॉग की कितनी आवश्यकताएं हैं और कितनी सुख सुविधाओं के साथ आप अपने ब्लॉग को होस्ट करना चाहते हैं. आपका अपने ब्लॉग को होस्ट करने के लिए कितना बजट है, और क्या आपका ब्लॉग फ्री होस्टिंग में ही चल सकता है. इन सभी सवालों का जवाब सिर्फ और सिर्फ आपके पास ही है.

मैंने इस आर्टिकल के माध्यम से आपको रास्ता बताया है मंजिल पर आपको ही पहुंचना है और यह भी आपको ही तय करना है कि आप पैदल चल कर भी अपनी मंजिल तक पहुंच सकते हैं या बाइक, कार, बस व हवाई जहाज के द्वारा आप अपनी मंजिल पर पहुंचना चाहते हैं.

निष्कर्ष

इस आर्टिकल को पढ़ने के बाद आपने अपना प्लान तो बना ही लिया होगा कि आप कौन सी होस्टिंग लेना चाहेंगे मगर फिर भी मेरा फर्ज बनता है कि मैं आपको कम शब्दों में अपनी राय दूँ.

अगर आप ब्लॉगिंग शुरू ही कर रहे हैं और आपको अपने ब्लॉग को चलाने के लिए बजट भी नहीं है तो आप फ्री वेब होस्टिंग blogger.com का इस्तेमाल करें, जब आपको लगे कि आपके ब्लॉग को अधिक सुविधाओं की जरूरत है और उन सुविधाओं के बदले आप पैसा खर्च कर सकते हैं तो आप अपने ब्लॉग की आवश्यकताओं के अनुसार ऊपर दिए गए किसी भी होस्टिंग प्लान में से कोई भी प्लान खरीद सकते हैं.

किसी भी प्रकार के मन में उमड़ रहे सवाल का जवाब पाने के लिए नीचे कमेंट बॉक्स में अपना सवाल लिखें और जवाब पाने के लिए मेरे इस ब्लॉग पर समय-समय पर विजिट करें. अगर यह आर्टिकल अच्छा लगा हो तो शेयर जरुर करें.

Leave a Reply