worldfree4u, worldfree4u, free4u, free4uworld

World4ufree, Worldfree4u, bolly4u, 9xmovie, Free4u, Free4uworld यह सभी नाम आज एक ब्रांड बन गए हैं।  क्या आप जानते हैं कि यह सभी क्या काम करते हैं?  आपको यह जानकर हैरानी होगी कि यह और कुछ इस तरह के और भी कई सारे नाम हर दिन करोड़ों रुपयों की पायरेटेड movies, video, songs, के द्वारा फिल्म जगत और भारत सरकार का बहुत बड़ा नुकसान करते हैं।  यह सभी वेबसाइट पायरेटेड फिल्में डाउनलोड करने का  भारत में बड़ा स्रोत है। “Please Avoid these types or website” 

कृपया इस प्रकार के किसी भी वेबसाइट को इस्तेमाल ना करें, अपने नजदीकी सिनेमाघर में जाएं और वहां जाकर फिल्म देखने का लुफ्त उठाएं। ऐसा करने से सिनेमाघरों की कमाई के साथ-साथ भारत सरकार को भी इनकम टैक्स के रूप में फायदा होगा।

यह वेबसाइट हॉलीवुड मूवीस, बॉलीवुड मूवीस, टीवी शोस आदि सभी प्रकार के पेड कंटेंट को  फ्री में डाउनलोड करने के लिए उपलब्ध कराते हैं। और यह जानकर तो आपको बहुत बड़ी हैरानी होगी कि फिल्म रिलीज होने के दिन ही World4ufree की वेबसाइट में आपको वह मूवी पायरेटेड करके फ्री में डाउनलोड करने के लिए उपलब्ध हो जाती है

9xmovie, World4ufree, bolly4u वेबसाइट को और सभी पायरेटेड कंटेंट वाली वेबसाइटों की तरह ही कई बार इंटरनेट में ब्लॉक कर दिया गया है। मगर यह हर बार अपना डोमेन नेम बदल देते हैं। World4ufree, 9xmovie or bolly4u वेबसाइट के पीछे बहुत सारे लोग काम करते हैं जो सिनेमाघरों में जाकर अपने मोबाइल या कैमरे द्वारा फिल्मों को रिकॉर्ड करके अपनी वेबसाइट में पायरेटेड कर डाउनलोड करने के लिए उपलब्ध कराते हैं।

पायरेटेड फिल्में सिर्फ World4ufree bolly4u, or 9xmovie, वेबसाइट  में ही नहीं मिलती बल्कि इसका बहुत बड़ा व्यापार लोकल मार्केट भी है जहां पर यह लोग पायरेटेड फिल्में की CD और DVD बनाकर मार्केट में बेचते हैं।

Motion Picture Association के लिए LEK द्वारा 22 देशों में किये गए एक विश्लेषण (MPAstudy.pdf) में बताया गया है कि सबसे ज्यादा पायरेसी China, 90% और Russia, 79% जबकि India में सिर्फ 29% ही होती है। सिर्फ 2005 में ही Motion Picture Association को $18.2 Billion का नुकसान हुआ था और जो लगातार बढ़ता ही जा रहा है। पायरेटेड फिल्में डाउनलोड करने वालों में पूरी दुनिया के आंकड़ों के हिसाब से शहरी क्षेत्र में रहने वाले 16-24 उम्र वाले पुरुष सबसे ज्यादा हैं

यह आंकड़े और इतना नुकसान तो सिर्फ एक कंपनी Motion Picture Association का ही है, अगर पूरी दुनिया के सभी फिल्म प्रोडक्शन कंपनियों की बात की जाए तो या नुकसान trillion Doller से भी जादा का होगा।

English:

World4ufree, 9xmovie, Worldfree4u, bolly4u, Free4u, Free4uworld all these names have become a brand today, Do you know what all this work? You will be surprised to know that this and some such and many other names every day make big losses of crores of rupees by pirated movies, video, songs, the film industry and the Indian government “Please Avoid these types or website”. All these websites are a big source in India for downloading pirated movies.

Please do not use any such website, go to your nearest movie theater and take a look at the movie. In addition to earning cinemas, the Government of India will also be benefitted as income tax.

This website makes available for download of all types of paid content for free, such as Hollywood Movies, Bollywood Movies, TV Shows etc. And knowing this, you will be surprised to know that on the day of the release of the film, World4ufree’s website gives you the opportunity to pirate that movie and download it for free.

The World4ufree website has also been blocked on the Internet many times, just like all pirated content websites. But every time they change their domain name. A lot of people work behind the World4ufree, bolly4u, 9xmovie website, which makes movies available for download by pirating and pirating in their website by going through cinemas and recording movies by their mobile or camera.

Pirated movies are not available only on the World4ufree, bolly4u, 9xmovie website, but it also has a huge business local market where these people sell pirated movies and CDs and DVDs in the market.

For a Motion Picture Association, LEK has done an analysis in 22 countries (MPAstudy.pdf) that the highest piracy in China, 90% and Russia, 79% while India is only 29%. The Motion Picture Association suffered a loss of $ 18.2 billion in 2005 alone and continues to grow. Among the people who download pirated films, the world’s highest urban population is 16-24 in urban areas.

This figure and so much loss is just a company of Motion Picture Association if all the film production companies of the whole world are talked about, or the loss will be more than a trillion Doller.

Disclaimer: This content is for reference purpose only and The eHow Hindi claims no ownership of this content. The eHow Hindi does not support or promote piracy in any manner.

World4ufree, 9xmovie, Worldfree4u, Bolly4u - Please Give Your Review

Summary

क्या आप लोगों को लगता है की इस तरह की पायरेटेड फिल्में डाउनलोड करने वाली वेबसाइट होनी चाहिए या नहीं?

अगर नहीं होनी चाहिए तो हम और आप इस को कैसे रोक सक्तं है।

और अगर होनी चाहिए तो क्यूँ?

(निचे कमेंट बॉक्स में अपना कमेंट लिखें)

अगर होनी चाहिए तो अपनी रेटिंग 2 से 5 के बीच दें। और यदि आप नहीं चाहतें की ऐसी वेबसाइट न हो तो अपनी रेटिंग 1 दें।

 

Sending
User Review
1.75 (8 votes)