web
statistics

What is Cloud Computing – क्लाउड कम्प्यूटिंग क्या है।

Cloud Computing (क्लाउड कम्प्यूटिंग)

आखिर कार ये Cloud Computing है क्या चीज, क्लाउड कम्प्यूटिंग का नाम जादा सुनने में लगभग 2007-08 से आया है मगर 2013 से क्लाउड कम्प्यूटिंग का इस्तेमाल कुछ जादा होने लगा है। अगर हम इस के नाम पर जाए तो Cloud Computing (क्लाउड कम्प्यूटिंग) बादलों से संबंधित है, तो आप एकदम सही सोच रहे हैं, क्लाउड कम्प्यूटिंग कम्प्युटरों का एक जल है जिस में आप हर तारह की जानकारी डाल सकते हो और जब चाहे तब उस डाटा या जानकारी को आपने कम्प्युटर, टैब या मोबाइल फोन की मदद से देख व अपडेट कार सकते हो। वैसे तो हर इंटरनेट इस्तेमाल करने वाला क्लाउड कम्प्यूटिंग का इस्तेमाल कर चुका है और कर भी रहा है मगर वह क्लाउड कम्प्यूटिंग एक छोटा सा भाग ही इस्तेमाल करता आया है जैसे:- आप अपने कम्प्युटर, टैब व मोबाइल से इंटरनेट का इस्तेमाल, फेस्बूक, जीमेल, WhatsApp, गूगल डॉक, आउटलूक आदि। मगर आज क्लाउड कम्प्यूटिंग ने बहुत बड़ा रूप ले लिया है और हर कोई इस में अपनी अवश्कता या जरूरत के अनुसार किसी भी एप्लिकेशन, अप्प व डाटा को इस्तेमाल कर सकता है।

पढे:- How to free Host your website on Google Blogger

यह परिवर्तन ऐसे सॉफ्टवेयरों की बदौलत आया है जो कंप्यूटर पर नहीं, बल्कि वेब या इंटरनेट पर चलते हैं। कुछ टाइम पहले किसी सॉफ्टवेयर को इस्तेमाल करने के लिए आप को उसको अपने कंप्यूटर या सेलफोन पर डाउनलोड करना पड़ता था, इसके बाद वह सॉफ्टवेयर केवल उसी कंप्यूटर या मोबाइल फोन पर चलाया जा सकता था। मगर आज क्लाउड कंप्यूटिंग के जरिये आप बिना सॉफ्टवेयर डाउनलोड किये हुए उस का इस्तेमाल काही भी रहते हुए इंटरनेट के जरिए कर सकते हैं उस पर आप अपने डॉकयुमेंट, विडियो, फोटो इत्यादि रख सकते हैं और जब भी चाहें किसी भी उपकरण से उनको देख और बदल सकते हैं।

क्लाउड कम्प्यूटिंग का एक और उदाहरण मैं आप लोगो को देता हूँ, आज तक आप को Windows, Linux, OS आदि ओप्रटिंग सिस्टम चलाने के लिए लैपटॉप या डेस्कटॉप की जरूरत होती है मगर क्लाउड कम्प्यूटिंग द्वारा आप को किसी भी ओप्रटिंग सिस्टम को चलाने के लिए लैपटॉप या डेस्कटॉप की जरूरत नहीं हैं, आप क्लाउड कम्प्यूटिंग में ही अपना मन चाहा कम्प्युटर और उस में हार्डडिस्क व रैम घाटा बड़ा सकते हो और मन चाहा ओप्रटिंग सिस्टम इन्स्टाल कार के उसमें कोई भी एप्लिकेशन इन्स्टाल कर सकते है और कहीं भी रहते हुए इंटरनेट के द्वारा आप उसे चला सकते है या आपने क्लाउड कम्प्युटर को ऑपरेट कर सकते हैं।

आज हर बड़ी कंपनी क्लाउड की सुबिधा देने लगी है क्यों की आनेवाला टाइम क्लाउड का ही होने वाला है आप हर काम क्लाउड में ही करोगे चाहे आप अपने घर पे हो या ऑफिस में बस आप के पास इंटरनेट होना चाहिए और फिर आप के पास कोई भी डिवाइस हो लैपटाप, डेस्कटॉप, मोबाइल फोन, टीवी हो या गेम कंसोल हो या इंटरनेट से चलने वाली कोई भी चीज, आप हर काम अपने किसी भी डिवाइस से कर सकते हो।

cloud_computing

 

पढे:- Start Hosting Your Website with Best Web Hosting Provider

क्लाउड कम्प्यूटिंग सुबिधा देने वाली कुछ बड़ी कंपनीयां

Google Cloud

गूगल आप को अपने क्लाउड को 60 दिनो तक फ्री में इस्तेमाल करने के लिए $300 देता है जिस से आप गूगल क्लाउड की कोई भी सुबिधा को अपने जरूरत के हिसाब से इस्तेमाल कर सकते हो गूगल इस के लिए आप से कोई भी चार्ज नहीं लेता है जब तक आप खुद अपना प्लान अपग्रेड नहीं करते हो।

Microsoft Cloud

माइक्रोसॉफ़्ट भी आप को अपनी सर्विस व अपने अप्प इस्तेमाल करने के लिए Rs.12100/-, 30 दिनो के लिए देता है जिस से आप माइक्रोसॉफ़्ट क्लाउड में 30 दिनो के लिए किसी भी अप्प को ट्राई या इस्तेमाल कर सकते हो।

HP Cloud

एचपी तो अपने क्लाउड को इस्तेमाल करने के लिए आप को पूरे 90 दिन (3 महीने) देता है, एचपी क्लाउड में आप बिना किसी समस्या के 90 दिनों तक इस के क्लाउड सर्विस को इस्तेमाल कर सकते हो मगर आप को हर महीने सिर्फ $100 का ही फ्री इस्तेमाल करने को मिलता है अगर आप ने इस से जादा की सर्विस इस्तेमाल कर दी तो उस का आप को भुगतान करना होता है।

Softlayer Cloud

Softlayer भी अपने क्लाउड कम्प्यूटिंग को 1 महिने के लिए आप को फ्री यूस करने के लिए देता है Softlayer एक वर्ड लेबल की होस्टिंग व डाटा सेंटर प्रदान करने वाली कंपनी है जो कि IBM की ही एक कंपनी है।

Amazon Cloud Storage

अमाजोंन ऑनलाइन प्रॉडक्ट बेचने वाली दुनिया की एक बड़ी कंपनी है वह ऑनलाइन शॉपिंग की सुबिधा के साथ साथ अपने ग्राहको को तीन महीने के लिए फ्री में क्लाउड स्टोरेज देता है जिस में आप अपने हर प्रकार के दस्तावेज़ रख सकते हो।

BlueHost

iCloud

Dell Cloud

Lenovo Cloud

Red Hat Cloud

इसी तरहा और भी बहुत सारी कंपनी है जो क्लाउड की सुबिधा दे रही हैं और भविष्य में और भी सुबिधाए आप को क्लाउड कम्प्यूटिंग द्वारा मिलती जाएँगी।

2 Comments

  1. rohit June 22, 2017

Leave a Reply